कैबिनेट बैठक के एजेंडे में शामिल हुई यह फाइल,केंद्रीय कर्मियों को इस बढ़ोतरी का फायदा

Spread the love

कैबिनेट बैठक के एजेंडे में शामिल हुई यह फाइल: इस बढ़ोतरी का फायदा, लगभग 47 लाख केंद्रीय कर्मियों और 63 लाख पेंशनरों को पहुंचेगा। अगर किसी कर्मचारी का मूल वेतन 18 हजार रुपये है और डीए में चार फीसदी की वृद्धि होती है तो 38 फीसदी महंगाई भत्ते के हिसाब से उसके वेतन में लगभग 720 रुपये बढ़ जाएंगे…

केंद्र सरकार के कर्मियों और पेंशनरों को पहली जुलाई से महंगाई भत्ता ‘डीए’ व महंगाई राहत ‘डीआर’ मिलने की राह प्रशस्त हो गई है। केंद्रीय कैबिनेट की बैठक के एजेंडे वाली टेबल पर ‘डीए/डीआर’ की फाइल पहुंच गई है। सूत्रों के मुताबिक, अब उस फाइल पर कैबिनेट की मुहर लगना बाकी है। इससे पहले भी जब कभी वह फाइल टेबल पर पहुंची है, डीए/डीआर की घोषणा हुई है। इस बार डीए/डीआर में चार से पांच फीसदी की वृद्धि हो सकती है।

Follow us on Gnews

मौजूदा समय में 34 फीसदी की दर से महंगाई भत्ता मिल रहा है। अगर इसमें चार फीसदी की बढ़ोतरी होती है तो डीए/डीआर की दर 38 फीसदी तक पहुंच जाएगी। विपक्ष भी महंगाई को लेकर केंद्र सरकार पर लगातार हमले कर रहा है।
महंगाई भत्ते में 4-5 फीसदी की बढ़ोतरी तय …

केंद्र सरकार, एक वर्ष में दो बार यानी जनवरी व जुलाई में खुदरा महंगाई के आंकड़ों के आधार पर डीए/डीआर की दरों में संशोधन करती है। देश में अगर मौजूदा स्थिति की बात करें तो महंगाई बढ़ती जा रही है। महंगाई का स्तर, ‘रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया’ के अनुमान से ऊपर पहुंच गया है। खुदरा महंगाई दर, जून माह में सात फीसदी से ऊपर रही है

। इस साल जनवरी माह से ‘डीए/डीआर’ में तीन फीसदी की वृद्धि हुई थी। नतीजा, डीए/डीआर की दर 34 फीसदी पर पहुंच गई थी। अब पहली जुलाई से महंगाई भत्ते में 4-5 फीसदी की बढ़ोतरी तय मानी जा रही है। ऑल इंडिया कंज्यूमर प्राइस इंडेक्स फॉर इंडस्ट्रियल वर्कर्स का डेटा भी डीए/डीआर में पांच फीसदी तक की बढ़ोतरी की संभावना जता रहा है।

केंद्र सरकार द्वारा डीए/डीआर में वृद्धि करने के बाद सभी राज्य सरकारें भी अपने-अपने कर्मियों को यह फायदा प्रदान करती हैं।
47 लाख कर्मियों व 63 लाख पेंशनरों को पहुंचेगा लाभ
इस वृद्धि का फायदा, लगभग 47 लाख केंद्रीय कर्मियों और 63 लाख पेंशनरों को पहुंचेगा। अगर किसी कर्मचारी का मूल वेतन 18 हजार रुपये है और डीए में चार फीसदी की वृद्धि होती है तो 38 फीसदी महंगाई भत्ते के हिसाब से उसके वेतन में लगभग 720 रुपये बढ़ जाएंगे। कर्मचारी का मूल वेतन 25 हजार रुपये है,

तो उसे प्रतिमाह 1000 रुपये का फायदा होगा। जिस कर्मी की बेसिक सेलरी 35 हजार रुपये है, तो उसे प्रतिमाह 1400 रुपये ज्यादा मिलेंगे। 45 हजार रुपये बेसिक सेलरी पर लगभग 1800 रुपये बढ़ेंगे। ऐसे कर्मी, जिन्हें 52 हजार रुपये बेसिक सेलरी मिलती है, डीए बढ़ोतरी पर उन्हें हर माह 2000 रुपये से ज़्यादा का लाभ होगा।

Read Also: दिल्ली से आगरा तक देश के पहले 500 किमी अंतरराज्यीय इलेक्ट्रिक हाईवे के 210 किमी के पहले काम को किया पूरा

70 हजार रुपये की बेसिक सेलरी वाले कर्मचारी को लगभग 2800 रुपये, 85,500 रुपये की बेसिक सेलरी पर लगभग 3420 रुपये और एक लाख रुपये बेसिक सेलरी वाले कर्मियों के खाते में हर माह 4000 रुपये से अधिक की बढ़ोतरी होगी।

associated post

Join

Spread the love